Wednesday, July 6, 2022
HomeCricket Newsझूलन गोस्वामी के लिए ओलंपिक इवेंट जितने मायने रखती है वर्ल्ड कप,...

झूलन गोस्वामी के लिए ओलंपिक इवेंट जितने मायने रखती है वर्ल्ड कप, जितने की कर ली है पूरी तैयारी

भारतीय महिला क्रिकेट (Indian Women’s Cricket Team) टीम की दिग्गज तेज गेंदबाज झुलन गोस्वामी (Jhulan Goswami) इस साल मार्च में न्यूजीलैंड मे खेली जाने वाली महिला क्रिकेट विश्व कप के लिए अपनी तैयारी को मजबूत करने मे जुटीं हुई है. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाली गेंदबाज झूलन अपने करियर मे अभी तक वर्ल्ड कप की ट्रॉफी नही जीत पायी है, झूलन अब 39 साल की हो चूकी है और वो अपने शानदार करियर का अंत वर्ल्ड कप जीत के सपने को पूरा करके करना चाहती है.

न्यूजीलैंड मे होगा महिला क्रिकेट विश्व कप का आयोजन

झूलन गोस्वामी (Jhulan Goswami) ने अपने करियर में कई ऊचाइयां देखी है. उन्हे टीम इंडिया की कप्तानी करने का भी मौका मिला है. 2007 में वो आईसीसी वीमेन क्रिकेटर ऑफ द ईयर (ICC Women Cricketer Of The Year) के अवार्ड से पुरस्कृत हो चूकी है. वह वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा 240 विकेट लेने वाली गेंदबाज हैं. लेकिन उनका वर्ल्ड कप जीतने का सपना अभी तक पूरी नही हो पाई है. ऐसे में इसबार झूलन इस सपने को पूरा करने के लिए पूरे जोर शोर के साथ तैयारियों मे लगी हुई है. वर्ल्ड कप का आयोजन पिछले साल ही होना था. लेकिन कोरोना के कारण इसे इस साल मार्च महीने में न्यूजीलैंड में कराया जा रहा है.

हमारे लिए वर्ल्ड कप ओलंपिक इवेंट के जैसा है: झूलन गोस्वामी

4 मार्च से न्यूजीलैंड में शुरू होने जा रही महिला क्रिकेट विश्व कप 2022 (Women’s Cricket World Cup) के लिए भारत की 15 सदस्यीय टीम का एलान हो चूका है. अनुभवी दिग्गज गेंदबाज झूलन गोस्वामी (Jhulan Goswami) के टीम की गेंदबाजी आक्रमण को लीड करते हुए नजर आएगी. WINS के साथ हुई बातचीत के दौरान दिग्गज खिलाड़ी ने कहा,

क्रिकेटरों के रूप में हम ओलंपिक नहीं खेलते हैं. हमारे लिए वर्ल्ड कप एक ओलंपिक इवेंट की तरह है. आप एक निश्चित स्तर तक पहुंचने के लिए चार साल की तैयारी करते हैं. जब मेगा इवेंट आखिरकार आता है तो आप वहां एन्जॉय करते है और खुद को व्यक्त करते हैं.

न्यूजीलैंड मे तेज हवाओं के बीच होती है मुश्किल

भारतीय महिला टीम को वर्ल्ड कप से पहले मेजबान न्यूजीलैंड के खिलाफ (INDW vs NZW) 5 वनडे और 1 टी20 मैचो की सीरीज खेलनी है. इससे टीम को कंडीशन को समझने मे मदद मिलेगी. इसके बारे में बात करते हुए झूलन (Jhulan Goswami) ने कहा कि, न्यूजीलैंड की स्विंग लेती पिच पर बल्लेबाजी और गेंदबाजी सभी क्षेत्रों मे काफी चुनौतियों का सामना करना पड़ता है.

न्यूजीलैंड में कुछ भी आसान नहीं होने वाला है क्योंकि हवा यहाँ पर एक बड़ी भूमिका निभाती है. गेंदबाजी मे जब आप रन-अप लेना शुरू करते हैं, तो कभी-कभी आप तेज दौड़ नही लगा पाते है. बल्लेबाजी मे यदि आप बल्ले को टैप करना शुरू करते हैं, तो बल्ला हिलना शुरू कर देता है.

Also Read: विराट कोहली और अनुष्का शर्मा के 1 साल की मेहनत पर फिरा पानी, वामिका का क्यूट चेहरा आया पूरी दुनिया के सामने

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments