Thursday, June 30, 2022
HomeCricket Newsकभी साइकिल खरीदने के लिए भी कम पड़ गए थे पैसे, आज...

कभी साइकिल खरीदने के लिए भी कम पड़ गए थे पैसे, आज करोड़ो मे खेल रहा है यह भारतीय स्टार

आईपीएल मे दिल्ली कैपिटल्स (DC) के लिए खेलने वाले युवा तेज गेंदबाज आवेश खान (Aavesh Khan) ने IPL 2021 में अपनी शानदार गेंदबाजी से काफी धूम मचाया. चयनकर्ताओ ने आवेश के इस शानदार प्रदर्शन को देखते हुए उन्हे टी 20 वर्ल्ड कप 2021 मे बतौर नेट- गेंदबाज टीम इंडिया मे शामिल किया. उसके बाद उन्हे न्यूजीलैंड और साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेली गयी सीरीज़ के लिए भी टीम इंडिया मे मौका दिया गया. और अब वेस्टइंडीज के खिलाफ खेली जाने वाली लिमिटेड ओवर की सीरीज के लिए भी वो टीम मे जगह पाने मे सफल रहे. हालाँकि उससे पहले उन्होंने घरेलू क्रिकेट से लेकर इंटरनेशनल क्रिकेट तक पहुँचने तक के लिए की गयी अपनी पूरी स्ट्रगल की कहानी बताई है.

इंटरनेशनल डेब्यू का है इंतजार

22 साल के युवा स्टार तेज गेंदबाज आवेश खान (Aavesh Khan) ने इस आईपीएल 2021 में कुल 24 विकेट हासिल किये. वो हर्षल पटेल के बाद दूसरे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज रहे. इस दौरान इनका औसत 18.75 का रहा. वही उन्होंने 7.37 की इकोनॉमी रेट से रन खर्च किए. टी-20 क्रिकेट के लिहाज से यह आंकड़े काफी शानदार है.

जिसके बाद उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ खेली गयी घरेलू टी-20 सीरीज और दक्षिण अफ्रीका दौरे पर गयी लिमिटेड ओवर की टीम मे जगह दी गयी. हालाँकि इस दौरान उन्हें अपना इंटरनेशनल डेब्यू करने का मौका नहीं मिला. लेकिन माना जा रहा है कि, वेस्टइंडीज के खिलाफ होने वाले सीरीज में आवेश टीम इंडिया के लिए अपना डेब्यू कर सकते है

जीवन में कुछ हासिल करने के लिए स्ट्रगल करने की है जरूरत

भारत और वेस्टइंडीज (IND vs WI) के बीच खेली जाने वाली सीरीज की शुरुआत 6 फरवरी से वनडे मैच के साथ होने वाली है. और उसके बाद 12 और 13 फरवरी को मेगा ऑक्शन (IPL 2022 Mega Auction 2022) भी आयोजित होनी है. उससे पहले युवा गेंदबाज आवेश खान (Aavesh Khan) ने बोरिया मजूमदार (Boria Majumdar) से बात करते हुए अपने स्ट्रगल के बारे में बताया है. आवेश 2016 अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम का हिस्सा थे. अंडर-19 वर्ल्ड कप में जगह मिलने से पहले आवेश को करीब 10 साल स्ट्रगल करना पड़ा था. उन्होंने कहा,

केवल मैं, मम्मी और पापा ही असल में स्ट्रगल से गुजरे हैं. अगर मैं अपने स्ट्रगल के बारे में बात करूं तो यह दो मिनट में खत्म हो जाएगा, लेकिन हम इसके साथ 10 साल तक रहे हैं. हम इसके बारे में बात कर सकते हैं. लेकिन इसे महसूस केवल मै ही कर सकता हूँ कि हम किस दौर से गुजरे हैं. जीवन में कुछ हासिल करने के लिए स्ट्रगल करना ही पड़ेगा चाहे आपका फैमिली बैकग्राउंड कैसा भी हो.

साइकिल खरीदने के लिए भी थी पैसे की कमी

25 वर्षीय गेंदबाज ने अपने उन दिनों को भी याद किया, जब उनके पिताजी के पास 2 सालों तक कोई काम नहीं था. आवेश बताते हैं कि, उस समय वो बस के किराये के लिए खर्च होने वाले 20-30 रूपये भी काफी बड़ी रकम लगती थी. उन्हने कहा,

मेरे पिता एक दुकानदार थे और एक समय दुकान टूटने की वजह से दो साल तक उनके पास कोई काम नहीं था. ग्राउंड की दूरी हमारे घर से ज्यादा थी और बस का किराया लगभग 20-30 रुपये था, जो उस समय हमारे लिए अधिक था. उस समय मैंने अपने पिता से कहा कि मेरे लिए एक साइकिल खरीद दे ताकि मैं उसके साथ मैदान और स्कूल जा सकूं और कुछ पैसे बचा सकूं. लेकिन मेरे पिता के पास उस समय इतने पैसे नहीं थे इसलिए हमने एक पुरानी साइकिल खरीदी

Also Read: ‘बेबी एबी’ ने अंडर-19 वर्ल्ड कप मे खेली एक और ताबड़तोड़ पारी, शिखर धवन के 18 साल पुराने रिकॉर्ड को किया ध्वस्त

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments