Tuesday, July 5, 2022
HomeCricket Newsभारतीय युवाओं ने रचा इतिहास, रिकॉर्ड आठवी बार अंडर-19 एशिया कप के...

भारतीय युवाओं ने रचा इतिहास, रिकॉर्ड आठवी बार अंडर-19 एशिया कप के ट्रॉफी पर किया कब्जा

Under-19 Asia Cup 2021 के फाइनल मुकाबले में भारतीय युवा टीम ने एक बार फिर से इतिहास रच दिया. टीम इंडिया ने फाइनल मुकाबले में श्रीलंका को एकतरफा अंदाज मे 9 विकेट से हरा दिया. टॉस जीतकर कर पहले बल्लेबाजी करने उतरी श्रीलंकन टीम निर्धारित 38 ओवर मे 9 विकेट के नुकसान पर केवल 106 रन तक ही पहुँच पाई. जवाब में टीम इंडिया ने इस मामूली से लक्ष्य को केवल 21.1 ओवरों में 1 विकेट खोकर पूरा कर लिया. इस तरह से भारतीय क्रिकेट के भविष्य की दल ने रिकॉर्ड आठवी बार इस ट्रॉफी पर कब्जा कर लिया.

श्रीलंका ने टॉस जीतकर चुनी बल्लेबाजी

भारत और श्रीलंका के बीच यह हाई-वोल्टेज फाइनल मुकाबला दुबई के इंटरनेशनल स्टेडियम मे खेला गया. श्रीलंका के कप्तान दुनिथ वेललेज (Dunith Wellalage) ने इस बेहद ही महत्वपूर्ण मैच मे टॉस जीता, और पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया.

भारतीय टीम सेमीफाइनल मुकाबले में बांग्लादेश को 103 रनों के भारी अंतर से हराकर रिकॉर्ड आठवीं बार अंडर-19 एशिया कप के फाइनल में पहुंची थी. वही दूसरा सेमीफाइनल काफी लो-स्कोरिंग रहा। जिसमे श्रीलंका ने मजबूत पाकिस्तान को पछाड़कर फाइनल मे अपनी जगह बनाई.

श्रीलंकन बल्लेबाजों ने डाले हथियार

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला श्रीलंका के कप्तान पर उल्टा पड़ गया. श्रीलंका के बल्लेबाजों के पास भारतीय गेंदबाजी का कोई जवाब नही था. उन्होंने शुरुआत मे ही हथियार डाल दिए. टीम इंडिया के गेंदबाजों की शानदार गेंदबाजी का अंदाजा इसी से लगता है कि, श्रीलंका पहले 10 ओवर मे 15 रन ही बना पाई. उनका ये स्ट्रगल अंत तक चलता रहा.

श्रीलंकन पारी के 33वे ओवर में बारिश ने भी काफी समय के लिए इस मैच में अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई. हालांकि कुछ समय बाद मौसम ने अपनी मेहरबानी दिखायी और खेल दुबारा शुरू हुआ. बारिश के कारण मैच को घटा कर 38 ओवर का कर दिया गया. श्रीलंकन टीम निर्धारित 38 ओवर में 9 विकेट के नुकसान पर केवल 106 रन ही बना पायी. श्रीलंकन पारी मे सबसे बड़ा स्कोर 19 रन raha. ये स्कोर टीम के नंबर 9 के बल्लेबाज यसिरू रोड्रिगो (Yasiru Rodrigo) ने बनाया. विक्की ओस्तवाल (Vicky Ostwal) ने एक बार फिर से शानदार गेंदबाजी करते हुए 3 विकेट हासिल किये. वहीं कौशल ताम्बे (Kaushal Tambe) के खाते में 2 विकेट रहा.

बल्लेबाजों ने दिलाई रिकॉर्ड जीत

बारिश के बाद भारतीय टीम को डकवर्थ लुईस के नियम के मुताबिक़ 102 रनों का लक्ष्य मिला. इस आसान से लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया की शुरुआत भी अच्छी नहीं हो पायी. इस टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाए वाले बल्लेबाज हरनूर सिंह (Harnoor Singh) केवल 5 रन बनाकर पवेलियन लौट गए. लेकिन उसके बाद सलामी अंग्क्रिश रघुवंसी (Angkrish Raghuvanshi)और सेमीफाइनल मैच के प्लेयर ऑफ द मैच शैख़ रशीद (Shaikh Rasheed) ने श्रीलंकन टीम को मैच मे वापसी करने का कोई मौका नही दिया.

दोनों बल्लेबाजों में मिलकर दूसरे विकेट के लिए नाबाद 96 रनों की साझेदारी करके टीम इंडिया को रिकॉर्ड आठवीं बार Under-19 Asia cup 2021 का चैंपियन बना दिया. भारतीय टीम अभी तक 8 बार इस जूनियर टूर्नामेंट के फाइनल मे पहुंची और आठों बार ट्रॉफी पर कब्जा किया है. अंग्क्रिश रघुवंसी ने फाइनल के इस बड़े मंच पर 56 रनों की नाबाद अर्धशतकीय पारी खेली. वही शैख़ रशीद 31 रन बनाकर नाबाद रहे.

Also Read: सचिन तेंदुलकर के घर मे मौजूद है दुनिया की सारी सुख- सुविधाएँ, तस्वीर देख हो जायेंगे मंत्रमुग्ध

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments