Thursday, June 30, 2022
HomeCricket Newsविराट कोहली ने आज ही के दिन मलेशिया की धरती पर रचा...

विराट कोहली ने आज ही के दिन मलेशिया की धरती पर रचा था इतिहास, टीम इंडिया को दिलाई थी दूसरी ट्रॉफी

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में शुमार विराट कोहली (Virat Kohli) और उनके फैंस के लिए आज यानी 2 मार्च का दिन एक खास महत्व रखता है. विराट की कप्तानी मे भारत ने आज ही के दिन साल 2008 मे अंडर-19 वर्ल्ड कप (U19 World Cup Champion) की ट्रॉफी उठाई थी। मलेशिया में खेले गए इस जूनियर टूर्नामेंट मे विराट कोहली (Virat Kohli) की अगुवाई मे खेलने उतरी भारतीय टीम ने फाइनल में साउथ अफ्रीका को 12 रनों (डकवर्थ लुईस) से हराकर दूसरी बार इस ट्रॉफी को अपने नाम कर लिया था. यह मैच कुआलालंपुर के किनरारा अकैडमी ओवल में खेला गया था।

कई प्रतिभाशाली खिलाड़ी थे टीम मे शामिल

कोहली के अलावा उस विजेता टीम में कई सारे ऐसे खिलाड़ी मौजुद थे. जिन्होंने आगे आकर सीनियर क्रिकेट मे भी भारतीय टीम के लिए काफी धूम मचाया। इसमें स्टार ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा, मनीष पांडे, सौरभ तिवारी और सिद्धार्थ कौल जैसे नाम शामिल हैं। विराट की कप्तानी मे जीती यह ट्रॉफी दूसरी अंडर-19 वर्ल्ड कप की ट्रॉफी थी. उससे पहले मोहम्मद कैफ ने अपनी कप्तानी मे साल 2000 मे टीम इंडिया को पहली बार चैंपियन बनाया था. विराट के BAAD से अब तक भारतीय युवा टीम को 3 और कप्तान उन्मुक्त चंद (2012), पृथ्वी साव (2018) और यश ढुल (2022) ट्रॉफी जीतवा चूके हैं. विराट के लिए आज का दिन तो खास है ही बल्कि 2 दिन के बाद उनके लिए एक और खास दिन होने वाला है. दरअसल भारतीय टीम फिलहाल श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज खेलने की तैयारी कर रही है। सीरीज का पहला मैच मोहाली में 4 मार्च से खेला जाएगा. टी 20 सीरीज़ मे आराम करने के बाद किंग कोहली भी पहले टेस्ट मे वापसी कर रहे हैं. और यह मैच विराट कोहली के टेस्ट करियर का 100वां टेस्ट होने वाला है.

रोमांचक मुकाबले मे जीती थी युवा भारतीय टीम

साल 2008 मे आज के दिन दक्षिण अफ्रीका के साथ हुए उस फाइनल मुकाबले की बात करे तो, पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम केवल 159 रन पर ही सिमट गई थी। तनमय श्रीवास्तव ने सर्वाधिक 42 रनो की पारी खेली थी। वो उस साल प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट भी चूने गए थे. विराट 34 गेंदों पर केवल 19 रन ही बना पाए थे। भारत की पूरी टीम 45.4 ओवर मे ही आल आउट हो गयी। डकवर्थ लुइस के आधार पर साउथ अफ्रीकी टीम को 25 ओवर में 116 रन का लक्ष्य दिया गया. जवाब मे साउथ अफ्रीका की टीम 8 विकेट पर 103 रनो तक ही पहुंच पाई. अजितेश अरगल ने 5 ओवर में मात्र 7 रन देकर 2 विकेट चटकाए, जिसके लिए उन्हे मैन ऑफ द मैच भी चूना गया था। जडेजा और सिद्धार्थ कौल ने भी 2-2 विकेट लिए जबकि इकबाल अब्दुल्ला के खाते मे 1 विकेट रहा था.

Also Read: टी20 वर्ल्ड कप 2022 के लिए आकाश चोपड़ा ने चूनी अपनी 15 सदस्यीय टीम, तेज गेंदबाजों पर जताया सबसे ज्यादा भरोसा

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments